diya aur baati hum – दिया और बाती हम सीरियल की कहानी

 

diya aur baati hum (दिया और बाती हम) 

diya aur baati hum (दिया और बाती हम) एक पारिवारिक धारावाहिक टीवी सीरियल है।इस सीरियल की शुरुआत टेलीविजन पर पहला diya aur baati hum episod 1 साल 2011 में 29 अगस्त को स्टार प्लस चैनल के द्वारा प्रस्तुत किया गया था।इस धारावाहिक सीरियल का उद्देश्य पत्नी और पति के प्रेम को समझाना था। कि किस एक पत्नी को चाहे वह कितनी ही पढ़ी लिखी न हो अपने पति और सास की बात को हमेशा मानना चाहिए ।तथा किस प्रकार एक पति को भी अपनी पत्नी के साथ कैसा बर्ताव करना चाहिए । 

    Diya aur baati hum (दिया और बाती हम) :कहानी 

    दिया और बाती हम संपूर्ण कहानी एक शादी सुदा प्रेमी जोड़े पर आधारित है जिसमे नायक का किरदार सूरज तथा नायिका का किरदार संध्या निभाती है।सूरज और संध्या शादी से पहले बिल्कुल अलग अलग सोच के थे।जहा सूरज एक मिठाई की हलवाई दुकान चलाता था।तो वही संध्या बहुत ही पढ़ी लिखी लड़की थी।सूरज और संध्या के परिवार वाले उन दोनो की शादी करा देते है। 

    शादी के बाद सूरज की पत्नी संध्या आईपीएस अधिकारी बनना चाहती थी।मगर सूरज के परिवार वाले और उसकी मां उसे आईएएस अधिकारी बनने नहीं देना चाहते है।मगर सूरज अपना पत्नी धर्म निभाते हुए जो एक सच्चे पुरुष का कर्तव्य होना चाहिए उसका पालन करते हुए अपनी पत्नी का साथ देता है।तथा वह अपनी पत्नी को आईपीएस अधिकारी बनाने के लिए अपने परिवार बालो को मानता है।सूरज के परिवार वाले संध्या को आईपीएस अधिकारी बनने के लिए भी मान जाते है।इसके बाद संध्या आईपीएस ऑफिसर बनने की तैयारी करती है और आईपीएस ऑफिसर भी बन जाती है।

    इसके बाद सूरज के भाई मोहित की मौत हो जाती है।पहले इस केश की करवाही आईपीएस संध्या अर्थात मोहित की भाभी कर रही थी लेकिन बाद में यह केस सत्यकांत त्रिपाठी नमक आईपीएस अधिकारी को दे दिया जाता है।जो इस केश के आड़े की कार्यवाही करते है।और मोहित के खोनी को जल्द ही पकड़ लिया जाता है।

    इसके बाद सूरज और उसकी मां को नाव में से आतंकवादी अपह्रण कर लेते है।जिसे संध्या अपने कोशल और बुद्धि से बचा लेती है।इसके पश्चात सूरज की मां को पछतावा होता है की में एक समय इसे आईपीएस अधिकारी बनने नहीं देना चाहती थी उस समय यदि यह आईपीएस अधिकारी न बनी होती तो शायद आज में और मेरा पुत्र सूरज जिंदा ही  नही होते 

    इसके कुछ सालो के बाद आईपीएस संध्या को एक मिशन पर जाना होता ही जिस निसान का नाम होता ही मिशन महावीर संध्या मिशन पर गई होती है मगर उनके परिवार बालो को पता चलता है की संध्या की मौत हो गई है।इस मिशन में अधिकारियों के द्वारा बताया जाता है की आतंकवादी संगठन गर्जना के लोग भारत के बारे में कुछ विशेष षड्यंत्र रच रहे है।आईपीएस संध्या को गर्जना संगठन के इस प्लान को खत्म करना होता है।जिसे खत्म करने के बाद तथा गर्जना संगठन के विनाश के पश्चात संध्या बापिस घर लोट आती है ।

    यह भी पढ़िए।

    money heist web series in hindi dubbed


    diya aur baati hum (दिया और बाती हम) : महत्वपूर्ण जानकारी 

    diya aur baati hum (दिया और बाती हम) नाटक के लेखक शशि मित्तल,सीमा मंत्री,रघुवीर शेखावत है।  diya aur baati hum (दिया और बाती हम) नाटक के निर्देशक सुमित मित्तल,रोहित राज गोयल है।diya aur baati hum (दिया और बाती हम) नाटक के संगीत निर्देशक शुभा मुद्रुल तथा कैलाश खेर है। diya aur baati hum (दिया और बाती हम) नाटक के निर्माता शशि मित्तल और सुमित मित्तल है।इस नाटक की शूटिंग पुष्कर,अजमेर,सिंगापुर,दिल्ली,तथा सिंगापुर,में हुई है। diya aur baati hum (दिया और बाती हम) नाटक को छायांकन किया है।सुदेश कोटियां और सुनील विश्वकर्मा ने तथा इस नाटक को प्रोड्यूस किया है।शशि सुमित  प्रोडक्शन ने इस नाटक का अंतिम episod स्टार प्लस पर सितंबर 2016 में आया था 

    diya aur baati hum (दिया और बाती हम) :किरदार 

    अनस रशीद diya aur baati hum (दिया और बाती हम) नाटक में संध्या के पति का किरदार सूरज बनकर इन्होंने ही निभाया था बिक्रम,मोहित,तथा छवि का बड़ा 

    दीपिका सिंह diya aur baati hum (दिया और बाती हम) ने इस सीरियल में सूरज की पत्नी का किरदार निभाया था।उनसे तीन देवर भी थे जिसमे से एक देवर की मिट हो जाती है।जिसकी जांच संध्या करती है।लेकिन इसके बाद इन केश की जानकारी सरकार के दौरा दूसरे आईपीएस ऑफिसर सत्यकांत त्रिपाठी को दे दी जाती है।जिससे संध्या को थोड़ा सा बुरा जरूर लगता है 

    यह नाटक टीवी जगत का सबसे प्रमुख नाटकों में से एक रहा इस नाटक ने उस समय टेलीविजन पर सारे रिकॉर्ड तोड दिए आपको यह नाटक कैसा लगता है।हमे कॉमेंट करके जरिए बताइए यदि आपको यह हमारा आर्टिकल पसंद आया हो तो में कॉमेंट में बताए ।हमे फॉलो करना ना भूले क्योंकि में इसी तरह के आर्टिकल आपको राज लता रहता हु।

    निष्कर्ष

    यदि आप किसी विषय पर आर्टिकल चाहते हो मुझे कॉमेंट कर के बता सकते हो में आपको क्रिकेट टेक्नोलॉजी बॉलीवुड और सोशल से जुड़े आरती इस ब्लॉग पर पब्लिश करता रहता हु ।यदि आपकी भी इसे जुड़ी कोई जिज्ञासा है तो कमेंट में जरूर बताएं।।

    Leave a Comment